सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

दांत में पानी लगने पर कौन सा मंजन करना चाहिए

 जब आपके दांतों में पानी लगे तो सबसे पहले आपको उस हिस्से को साफ करना चाहिए। फिर आप ऐसे टूथपेस्ट का उपयोग कर सकते हैं जिसमें फ्लोराइड होता है, क्योंकि फ्लोराइड के दांतों को मजबूत और स्वस्थ रखने जैसे संभावित लाभ होते हैं। यह दांतों की सुरक्षा और मसूड़ों को स्वस्थ रखने में मदद कर सकता है। आपको एक प्रमाणित दंत चिकित्सक से भी परामर्श लेना चाहिए जो आपकी विशेष परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए आपके लिए सही टूथपेस्ट की सिफारिश करेगा। आप सेंसोडाइन टूथपेस्ट को दांतों की संवेदनशीलता को कम करने के लिए दैनिक इस्तेमाल कर सकते हैं।

दांत दर्द व खराब होने का कारण

देखिए दांत खराब होने के दो मुख्य कारण है जिनके बारे में हम आपको बताएंगे दांत खराब होने का सबसे पहला कारण आता है 

अत्यधिक  मीठे का सेवन अगर कोई व्यक्ति अपने दैनिक जीवन में ज्यादा मात्रा में मीठे  का प्रयोग करता है 

और अपने दांतो की सफाई नहीं रखता तो उसको कैविटी हो जाती है 

जिसे आम भाषा में दांतों का कीड़ा लगना बोला जाता है दांतों में कैविटी इसलिए लगती है क्योंकि मीठा दांतों में फंस जाता है 

इस कारण दांतों में कैविटी लग जाती है इससेे दांतों की सुरक्षा परत धीरे धीरे नष्ट होने लगती है 

और उसके संपर्क में आने से  विभिन्न प्रकार के बैक्टीरिया संक्रमण कर दांतों को नष्ट करने लगते है जिसे लोग दांतों का कीड़ा बोलते हैं 

इसलिए जब  भी मीठे  का प्रयोग करें तो कोशिश करें कि दांतो को साफ सुथरा रखें 

यह तो वह कारण था जो अक्सर सभी लोग जानते हैं लेकिन क्या आप लोग जानते हैं

 कि इसका एक और बड़ा कारण है  कीड़ा लगने का देखिए वह भी कारण आप जान लीजिए 

ताकि आप अपने दांतो को जिंदगी भर के लिए सुरक्षित रख सके हैं
 हमारे मुंह का पीएच मान अगर 5.5ph से कम हो जाए तो हमारे दांतो का  क्षरण  होने लगता है 

और हमारे दांतो पर पाए जाने वाला सुरक्षात्मक इनेमल नष्ट होने लगता है 

और आपको जानकार  आश्चर्य होगा कि हमारे शरीर में सबसे मजबूत दांतों का कवर  ही होता है 

लेकिन अगर आप अधिकतर खट्टी चीजों का प्रयोग करते हैं जो खट्टी होती हैं 
इससे हमारे मुंह का पीएच मान गिरने लगता है 

और इस कारण भी हमारे दांतो का क्षरण होने लगता है और हमारे दांत कमजोर पड़ने लगते हैं 

और वह धीरे-धीरे नष्ट होने लगते हैं जिससे दांतो की मजबूती खो जाती है और उन में दर्द की शिकायत होने लगती है 

इसलिए आप इन दोनों चीजों का ध्यान रखें एक तो मीठे का प्रयोग ना करें 

और दूसरा अपने मुख  का पीच मान कम ना होने दें अर्थात अधिकतर खट्टी चीजों से बचें

दांतों का दर्द कहीं स्कर्वी रोग तो नहीं

दांतों में दर्द होने का एक मुख्य कारण उसका स्कर्वी रोग भी है जिसमें मसूड़े फूल जाते हैं और उन से खून बहने लगता है इस कारण भी उन्हें दर्द होने लगता है 

इसलिए अगर आपको दांतों में दर्द रहता है तो आप पहले पता करें या अपने किसी अच्छे से डॉक्टर से दिखाए कि कहीं स्कर्वी  रोग तो नहीं अगर स्कर्वी रोग  हैं 

तो उसके लिए आपको ज्यादा परेशान होने की आवश्यकता नहीं है 

इसके लिए आप खट्टे फलों का सेवन शुरू कर दें आपके शरीर में विटामिन सी की पूर्ति होती है तो आपका स्कर्वी रोग अपने आप ठीक हो जाएगा

दांतों का दर्द दूर करने का घरेलू उपाय

अब अगर आपके दांत खराब हो गए हैं या फिर उनमें  कैविटी हो गई है जिसके कारण आपके दांतों में हर समय  दर्द रहता है तो  

इससे बचने के लिए आप एक घरेलू उपाय कर सकते हैं जो कि काफी प्रसिद्ध भी है, दांतो के दर्द को दूर करने के लिए अक्सर मेडिसिन का सहारा लिया जाता है क्योंकि मेडिसन ही दांतो के दर्द को दूर करने में सहायक है 

लेकिन आप इसके लिए घरेलू उपाय भी कर सकते हैं जोकि दांत दर्द को दूर करने में बहुत ही अच्छा है इसके लिए आपको लौंग को इस्तेमाल करना होगा यदि आपके दांतों में दर्द हो रहा है 

तो इसके लिए आपको यह करना  होगा कि एक से दो लौंग  लेकर उसे अपने दांतों में  रख लेना है और थोड़ा चबा लेना है उसे खाना नहीं है 

बस अपने दांतों में रख लेना है इससे आपके दांतों का दर्द बहुत जल्दी ठीक हो जाएगा लौंग में पाए जाने वाला यूजिनॉल दर्द को दूर करने के लिए एक प्राकृतिक दर्द निवारक है 

इसलिए जब भी आपके दांत में दर्द हो आप इस प्रयोग को जरूर आजमाएं

दांतो के दर्द का रामबाण इलाज क्या है

दांतो के दर्द का रामबाण इलाज क्या है क्योंकि अगर आपके दांत में रोज दर्द रहता है तो आप रोजाना दवा नहीं ले सकते 

क्योंकि रोज दवा लेने से आपको अन्य प्रकार के साइड इफेक्ट हो सकते हैं  इसलिए आपको दांतो के दर्द को दूर करने के लिए इसका स्थाई इलाज करना चाहिए लेकिन इसका स्थाई इलाज क्या है 

अगर आपके दांत आधे से ज्यादा खाली हो चुके हैं तो आप किसी डेंटिस्ट के पास जाकर अपने दांतो में मसाला भरने को कहे मसाले से मतलब चांदी और पारा का मिश्रण आपके दांत में दर्द नहीं होने देगा यही खोखले दांत का इलाज है 

इससे आपको रोज रोज की दांतों की समस्या से छुटकारा मिल जाएगा और यही इसका एक परमानेंट इलाज है 

और अगर इस से भी बात नहीं बनती तो फिर आप अपने जाढ़ को ही निकलवा दें इससे होगा यह कि, ना रहेगा बांस ना बजेगी बांसुरी 

दांत दर्द में क्या नहीं खाना चाहिए

दांत दर्द में दो से तीन स्पेशल चीज नहीं खानी चाहिए। आपको दांत दर्द में इनका ध्यान रखना होता है 

कि कोई ज्यादा ठंडी या फिर ज्यादा गर्म चीज नहीं खानी है और या फिर ऐसी चीज जो बहुत मीठी हो और खाते समय आपके दांतों की जड़ों  में फंस जाए ऐसी चीजें खाने से दांतों में तुरंत दर्द  शुरू हो जाता है 

इसलिए आप इन तीनों चीजों से बचें बाकी आपको और किसी चीज का परहेज करने की जरूरत नहीं होती

दांत दर्द का एक्यूप्रेशर पॉइंट

दांत दर्द का एक्यूप्रेशर पॉइंट भी होता है एक्यूप्रेशर भी चिकित्सा की एक पद्धति है जिसमें किसी जगह को दबाने से रोगों का इलाज किया जाता है
 लेकिन इलाज तभी संभव है जब शरीर के सही अंग को सही जगह से दबाया जाए इसके लिए एक कुशल प्रशिक्षित व्यक्ति की आवश्यकता होती है 

क्योंकि शरीर के गलत पॉइंट को दबाने से शरीर को हानि हो सकती है अगर आप इसके  बारे में जानते हैं तो ठीक है वरना ऐसे प्रयोग करने से बचें, इससे अच्छा होगा कि आप डॉक्टर से दांत दर्द की टेबलेट ले

अपने दांतों को स्वस्थ कैसे रखें

अपने दांतो को स्वस्थ रखने के लिए आप कुछ थोड़े  प्रयोग कर सकते हैं इससे आपके दांत जीवन भर स्वस्थ रहेंगे और आपको दांतो का दर्द कभी नहीं सताएगा

 लेकिन समस्या ये है कि जब लोगों को दांतों से संबंधित परेशानी होती है तब वह ज्यादा इलाज उपाय करते हैं और जब उन्हें कोई परेशानी नहीं होती है 

तो लोग इस ओर बिल्कुल भी ध्यान नहीं देते और जिसके चलते दांतो के दर्द व अन्य तरह की समस्या हो जाती है इसलिए आप अगर हमारे बताए गए कुछ नियमों का पालन करेंगे तो 

आपके दांत कभी नहीं टूटेंगे और हमेशा सुरक्षित रहेंगे
अपने दांतो को नियमित साफ-सफाई करें और जहां तक हो सके मीठे पदार्थों से बचें
नीम के दातुन का प्रयोग अगर रोज नहीं कर सकते तो हफ्ते में एक दो बार जरूर करें इससे आपके पेट की तो सफाई होगी आपके खून की भी सफाई होगी और आपके दांतों में पाए जाने वाले हानिकारक बैक्टीरिया भी नष्ट हो जाते हैं
नियमित रूप से खट्टे फलों का सेवन करते रहें लेकिन आवश्यकता से अधिक मात्रा में सेवन ना करें अगर आप सही मात्रा में खट्टे फलों  का सेवन करते हैं 

तो खट्टे फलों में पाए जाने वाला विटामिन सी आपके दांतों की सुरक्षा करता है लेकिन अगर आप अधिक मात्रा में खट्टे फलों का या खट्टी चीजों का सेवन करते हैं 

तो इससे आपके मुंह का पीएच मान गिरने लगता है और इसी कारण आपके दांतों का क्षरण हो जाता है तथा  दांत नष्ट होने लगते हैं
कड़वी चीजें खाने से हमारे दांतो को कोई नुकसान नहीं होता जैसे कि करेला आडू अगर आप इस तरह की चीजों का सेवन करते हैं तो इससे हमारे दांत और ज्यादा मजबूत होते हैं क्योंकि यह क्षारीय होते हैं ना कि  अम्लीय
बहुत सारे टूथपेस्ट आजकल बाजार में  अवेलेबल है आप किसी भी टूथपेस्ट का यूज कर सकते हैं जरूरी नहीं है कि  सबसे अच्छा हो, जरूरी है 

कि आप नियमित रूप से टूथपेस्ट से अपने दांतों को साफ करते रहें, और अगर आप इसमें विश्वास नहीं करते तो आप नीम की दातुन का प्रयोग कर सकते हैं

FAQ

दांत दर्द को जड़ से खत्म करने के उपाय क्या है
दांतों की नियमित साफ-सफाई, सही खानपान, ठंडे मीठे गर्म पकवान से दूरी दांत दर्द को जड़ से खत्म करने में बहुत कारगर हैं

नींबू से दांत कैसे साफ करें
नींबू से दांत साफ  होते हैं और बहुत ज्यादा होते हैं क्योंकि नींबू में अम्ल पाया जाता है जो पीले दांतो को बहुत जल्दी और एकदम से सफेद कर देता है लेकिन यह नुकसानदेह होता है इसका ज्यादा इस्तेमाल ना करें इससे दांतों को बहुत ज्यादा नुकसान  होता हैं

दांत के ऊपरी भाग को क्या कहते हैं
इनेमल

दांत किस पदार्थ के बने होते हैं
दांत कैल्शियम फास्फेट से बने होते हैं

निष्कर्ष

इस पोस्ट में हमने आपको दांतों के कीड़े, दांतो के दर्द को दूर करने, उनकी साफ सफाई रखने की बारे में कुछ बातें बताई हमने इस पोस्ट का टाइटल फिटकरी से दांत का कीड़ा कैसे निकाले रखा

 इसलिए हम यह मानकर चले हैं कि आप दांतों की किसी समस्या से परेशान हैं और अपनी समस्या का हल चाहते हैं इसलिए हमने इस पोस्ट में उन सभी बातों पर प्रकाश डाला 

जो किसी व्यक्ति के लिए जानना जरूरी होता है आशा है की आपको अपने सभी सवालों का जवाब इस पोस्ट में पढ़ने को मिला होगा 

और अगर नहीं मिला है तो आप कमेंट करके बताएं कि आप की कौन सी समस्या है


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट