नीम से सोरायसिस का इलाज कैसे करें

 नीम से सोरायसिस का इलाज कैसे करें अगर आप सोरायसिस की समस्या से ग्रसित तो आप नीम को आजमा सकते हैं आज आधुनिक युग में कुछ लोगों को आयुर्वेदिक औषधि से इलाज कराना अच्छा नहीं लगता या फिर वह उसमें विश्वास नहीं करते हैं ऐसा कुछ हद तक सही हो भी सकता है  जिन लोगों को आयुर्वेदिक औषधियों से या किसी बीमारी में अच्छे परिणाम मिलते हैं तो वह लोग उन पर भरोसा करते हैं

 लेकिन आधुनिकता की भागदौड़ में बहुत सी आधुनिक दवाएं विकसित की जा चुकी हैं  आज एक से एक बढ़िया दवाई अंग्रेजी, होम्योपैथिक की उपलब्ध है लेकिन यह बात भी सही है कि आयुर्वेदिक दवाएं भी आज तेजी से उभर कर सामने आ रही है और रोगों पर बहुत ही अच्छा प्रभाव डालती हैं बहुत से लोगों को आयुर्वेदिक दवा के द्वारा ही ठीक किया जा रहा है जिन्हें बहुत सी ऐसी जड़ी बूटीयों से बनाया जाता है  बीमारियां पहले भी ऐसे ही मौजूद थी और आज भी ऐसे ही मौजूद है, बस समय बदल गया लेकिन त्वचा रोग आज भी व्यक्ति को परेशान करते रहते हैं नीम  जिससे त्वचा रोगों में एक अच्छा लाभ मिलता है और  इसका बहुत उपयोग होता है सोरायसिस रोग शरीर में रक्त की खराबी के कारण उत्पन्न होता है लेकिन यही इसका एक मुख्य कारण नहीं है और नीम से अगर इसका इलाज किया जाए तो नीम इसमें काफी लाभदायक सिद्ध हो सकता है लेकिन यह जरूरी नहीं कि सोरायसिस ठीक हो जाए

नीम से सोरायसिस का इलाज केसै करें

सोरायसिस रोग होने के बहुत सारे फैक्ट होते हैं और उन सभी को समझना और जानना एक बहुत ही मुश्किल काम होता है क्योंकि कोई भी नहीं जानता कि आखिर सोरायसिस का मुख्य कारण क्या है और किस के कारण यह रोग होता हैं लेकिन सोरायसिस रोग जब किसी को होता है तो उसे ऐसी चीजें खाने, पहनने, से रोका जाता है जो सोरायसिस  ट्रिगर कर सकते हैं अर्थात उसे बढ़ावा  देते है ऐसी चीजों को रोका जाता है और कुछ दवाइयां और खान-पान पर ध्यान करके इस रोग को ठीक किया जा सकता है लेकिन इसका मुख्य  कारण क्या है कोई नहीं जानता सिर्फ इतना ही जानते हैं की प्रतिरोधक क्षमता में कमी .या अधिकता के कारण यह रोग होता है लेकिन हमें तो यह जानना है कि नीम से सोरायसिस का इलाज कैसे करते हैं तो चलिए इस बारे में थोड़ा जान लेते हैं 

 सोरायसिस का इलाज करने के लिए दो तरीके हैं पहला तरीका  आप नीम का सेवन एक या 2 हफ्ते तक करें जिसमें आपको नीम कुछ पत्तियां लेकर उन्हें  पीसकर उनका रस सुबह प्रतिदिन रोजाना पीना होगा  इससे आपके रक्त के सभी विकार नष्ट हो जाएंगे और चर्म रोग ठीक होने की आसार बढ़ जाएंगे  

दूसरा तरीका यह है कि आप नीम की कुछ पत्तियां लीजिए और उनका पेस्ट बना लीजिए अब  उस पेस्ट को सोरायसिस पर रोजाना लगाएं और 1 से 2 सप्ताह तक इसे रोजाना करते रहें या फिर अगर आपको नीम की ताजी पत्तियां  ना मिले तो आप नीम तेल लीजिए और उस से सोरायसिस पर 1 से 2 हफ्ते तक रोजाना मालिश करें इससे सोरायसिस ठीक हो सकता है लेकिन यह जरूरी नहीं कि सोरायसिस ठीक हो यहां सिर्फ नीम से उपचार के बारे में बात की गई है यहां पर इसके ठीक होने की सौ परसेंट गारंटी नहीं दी जा सकती