इट्राकोनाजोल दाद की दवा

 इट्राकोनाजोल एक एंटीफंगल दवा है जिसका मुख्य रूप से कवक संक्रमण के उपचार में किया जाता है  इस दवा को कैसे उपयोग करना है और इसके क्या फायदे हैं और इसके सावधानी के बारे में हम आपको बताएंगे

फंगल इन्फेक्शन में इट्राकोनाजोल का लाभ


इट्राकोनाजोल का उपयोग लोग फंगल इंफेक्शन में करते हैं क्योंकि यह क्रीम के रूम में नहीं मिलती इस दवा का अधिकतर प्रयोग खाने में प्रयोग होने वाली दवाओं के रूप में क्या जाता है इसका उपयोग विभिन्न प्रकार के दाद संक्रमण के लिए किया जाता है जब शरीर में काफी जगह पर छोटे-छोटे दाग हो जाते हैं या फिर ऐसी जगह पर दाद हो जाते हैं जहां पर किसी क्रीम का प्रयोग नहीं किया जाता तो ऐसी स्थिति में इट्राकोनाजोल दवा का यूज़ किया जाता है जैसे अगर किसी व्यक्ति को मुंह में फंगल संक्रमण की समस्या है या फिर किसी फीमेल को योनि में फंगल इन्फेक्शन की समस्या है तो इस स्थिति में क्रीम का प्रयोग बार-बार नहीं किया जाता क्योंकि इन स्थानों पर करीम जादे टिक नहीं पाती और यहां पर क्रीम का प्रयोग किया भी नहीं जा सकता इसमें फंगल इन्फेक्शन को ठीक करना करीम से एक कठिन बात हो जाती है और इससे निपटने के लिए खाने वाली दवा का प्रयोग किया जाता है इट्राकोनाजोल एक ऐसी दवा दवा है जोक नाखूनों में आने वाले फंक्शन करो योनि में होने वाले फंगल संक्रमण और शरीर के विभिन्न भागों पर होने वाले फंगल संक्रमण को ठीक करता है


इट्राकोनाजोल कैसे काम करता है

इट्राकोनाजोल कवक की कोशिका भित्ति पर काम करता है अगर आपको पता होगा कि कवक की कोशिका भित्ति जटिल काइटिन की बनी होती है जो कि जटिल शर्करा की बनी होती है इट्राकोनाजोल जब कोई व्यक्ति लेता है तो यह उसके शरीर में जाकर कोशिका भित्ति को नष्ट करने लगता है यह कोशिका भित्ति के मुख्य घटक एरगेस्ट्रोल को बनने से रोकता है जिसके कारण कवक की कोशिका भित्ति कमजोर पड़ने लगती है और वह आवश्यक खनिज लवणों का जमाव नहीं कर पाती जिसके कारण उस में जगह-जगह से छेद होने लग जाते हैं और इस कारण उसके अंदर से सभी पोषक तत्व बाहर निकल जाते हैं और धीरे-धीरे कवक की मृत्यु हो जाती है और दाद भी नष्ट हो जाता है

इट्राकोनाजोल का उपयोग

इट्राकोनाजोल टैबलेट 200mg और 100mg में आपको मेडिकल स्टोर से मिल जाएगी इस दवा को 2 से 3 सप्ताह तक लेना होता । कभी-कभी एक महीने तक भी इस दवा को लेना पड़ता है आप अपने नजदीकी डॉक्टर से इस बारे में और अधिक जानकारी ले सकते हैं और उनके द्वारा बताए गए निर्देश अनुसार इसका प्रयोग कर सकते हैं

इट्राकोनाजोल के दुष्प्रभाव

कुछ लोगों के मन में सवाल आता है कि क्या इट्राकोनाजोल का प्रयोग करने पर कोई दुष्प्रभाव हो सकते हैं नहीं यह एक सुरक्षित और अच्छी दवा है और इसके आमतौर पर कोई साइड इफेक्ट नहीं देखने को मिलते लेकिन प्रकृति में भिन्न-भिन्न प्रकृति के लोग हैं और उनकी शरीर की किसी पदार्थ के प्रति अलग-अलग प्रतिक्रिया हो सकती है और इसी कारण कुछ व्यक्ति को किसी दवा से कभी-कभी साइड इफेक्ट हो जाते हैं लेकिन ऐसा बहुत ही कम होता है और अधिकतर यह लोगों पर बिल्कुल सुरक्षित दवाई मानी गई है और इसीलिए इसका बहुत ज्यादा प्रयोग किया जाता है
कुछ सामान्य साइड इफेक्ट है जैसे
उल्टी
जी मिचलाना
नींद आना
घबराहट होना

इस तरह के कुछ सामान्य साइड इफेक्ट आपको उस दवा का प्रयोग करने पर देखने को मिल सकते हैं

इट्राकोनाजोल का अल्टरनेटिव

अब हम itraconazole के अल्टरनेटिव के बारे में बात करेंगे इसका सबसे अच्छा अल्टरनेटिव candiforce 200mg व candiforce100mg है। कयोंकि इसमेंं भी itraconazole का ही उपयोग किया जाता है और candiforce  में भी। इसलिए आप इनमें से किसी का भी यूज कर सकते है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ